सौरभ सिंह सोमवंशी

प्रयागराज के होलागढ़ विकासखंड अंतर्गत मुकुंदपुर ग्राम सभा में आजादी से लेकर अभी तक एक ही परिवार का एकछत्र राज था, आजादी से लेकर 2010 तक महेंद्र देव शुक्ल के परिवार का ही कोई न कोई ग्राम प्रधान चुना जाता था उसी ग्राम सभा से मुकुंदपुर के ही बुंदेल सिंह ने महेंद्र देव शुक्ल को 713 के रिकॉर्ड मतों से पराजित कर प्रयागराज में एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है अभी तक की जानकारी के अनुसार इतने वोट से जीतने वाले वो जनपद प्रयागराज के पहले ग्राम प्रधान प्रत्याशी हैं।
नवनिर्वाचित प्रधान बुंदेल सिंह ने बताया कि उनके मुकुंदपुर ग्राम सभा के कुल 4600 मतों में से 2465 मत पड़े थे जिसमें से बुंदेल सिंह को कुल 1380 मत प्राप्त हुए हैं। अभी तक महेंद्र देव शुक्ल की पत्नी सुमन शुक्ल महिला सीट पर प्रधान थी परंतु अबकी बार अनारक्षित सीट पर उनके पति महेंद्र देव शुक्ला को 713 मतों से पराजित कर बुंदेल सिंह नया रिकॉर्ड बनाया है हालांकि इसके पहले 2010 से 2015 तक बुंदेल सिंह मुकुंदपुर के प्रधान रह चुके हैं।
बुंदेल सिंह ने बताया कि उनकी ग्राम सभा के हर जाति वर्ग के लोगों ने उनका समर्थन किया व जीत का ताज पहनाया उन्होंने कहा कि जिस तरह से हमारे ग्राम सभा की जनता ने हमारे ऊपर विश्वास जताकर इतनी बड़ी जिम्मेदारी दी है उसका मैं ईमानदारी से निर्वहन करुंगा और कभी भी किसी को किसी भी तरह की शिकायत का मौका नहीं दूंगा लोकतंत्र के इस पर्व में बुंदेल सिंह का भारी विरोध हुआ परंतु अपनी धुन के पक्के बुंदेल सिंह तनिक भी विचलित नहीं हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *