प्रयागराज

इलाहाबाद हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ता सुनील चौधरी को इलाहाबाद हाईकोर्ट की बार की सदस्यता से बर्खास्त कर दिया है ।और बार काउंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश को सुनील चौधरी की सदस्यता और अधिवक्ता के लाइसेंस रद्द किए जाने के लिए संस्तुति की है इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ता सुनील कुमार चौधरी ने इस समय इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ताओं के द्वारा शिक्षा सेवा अधिकरण के स्थापना के सिलसिले में आंदोलन को लेकर आलोचना की थी और इलाहाबाद हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को केस ई फाइल कर तत्काल सुनवाई का निवेदन किया था। और निवेदन किया था कि इस मामले को जल्द से जल्द खत्म किया जाए। सुनील कुमार चौधरी ने जल्द से जल्द हड़ताल को खत्म करने के लिए भी कहा था। जिसे इलाहाबाद हाई कोर्ट बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने संगठन धर्म का उलंघन माना और उनके ऊपर इस तरह की कार्यवाही की गई है। पिछले दिनों सुनील कुमार चौधरी का एक ऑडियो वायरल हुआ था जिसमें वह करेली थाने के एक पुलिस उपनिरीक्षक मुदित राय से बात विवाद कर रहे थे। अधिवक्ता सुनील कुमार चौधरी तब चर्चा में आए थे जब प्रयागराज के मीरगंज इलाके में चल रहे देह व्यापार के धंधे को बंद कराने के लिए उन्होंने इलाहाबाद हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल की थी।जो बाद में बंद भी हुई। परंतु बाद में इलाहाबाद हाईकोर्ट के एक संयुक्त निबंधक पर भी फर्जी FIR करवाकर उन्हें ब्लैक मेल करने का आरोप उनपर लगा है , संयुक्त निबंधक ने बयान में भी कहा है कि सुनील कुमार चौधरी महिला उत्थान के नाम पर ढोंग कर के ब्लैकमेलिंग का धंधा करते हैं और लोगों पर फर्जी FIR करवाकर पैसे की डिमांड करते हैं व उनका एक ठग गिरोह भी है, यह बयान उन्होंने आधिकारिक रूप से जांच अधिकारियों को दिया है।

One thought on “अधिवक्ता सुनील चौधरी की इलाहाबाद हाईकोर्ट बार से सदस्यता समाप्त”
  1. धन्नजय सिंह के पीछे पडने से क्या हासिल होगा कुछ नहीं ।नियमत: सभी मामलों से बरी हो चुके हैं इतनी जानकारी समाज में है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *